आरोग्यमहाराष्ट्र

आपके शब्द आपकी ही दुनिया को बदल सकते हैं !

सफ़लता के विचार

————————

सोच समझ कर शब्दो का इस्तेमाल करें, कम शब्दों में ज्यादा बात कहना, व्यर्थ की बातें न करना, अच्छाई खोजना, तारीफ करना, दुसरे की बात को सुनना एंव महत्त्व देना, विनम्र रहना, अपनी गलतियाँ स्वीकारना इत्यादि सफलता के कुछ बुनियादी नियम है।

आपके शब्द आपकी दुनिया है। सजगता से अपने शब्दों को चुने और कहे। गौतम बुद्ध ने ढ़ाई हज़ार साल पहले ही कहा था- “इंसान विचारो से निर्मित प्राणी है, जैसा सोचता है वैसा बन जाता है।”

आज आपकी परिस्थिति कैसे भी हो, एक बार अपने शब्द और विचारों की जांच कीजियेगा। आपका उत्तर आपके शब्दो मे ही प्राप्त होगा।
सकारात्म शब्द सकारात्मक परिस्थितियों को आकर्षित करेगी और नकारात्मक, नकारात्मक को।

-आनंदश्री (प्रोफ. डॉ. दिनेश गुप्ता)

Share

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
या वेब साईट वरील फोटो,बातमी,लेख कॉपी करू नये
Close
Close